दिल छू लेने वाली देश भक्ति शायरी by Astrologer Dr Praveen Jain Kochar

देश भक्ति का दिल छू लेने वाला विडीओ : डॉ प्रवीन जैन कोचर 

मोमबत्तियां बुझ गयी ,चिराग तले अँधेरा छाया था
फांसी के फंदे पर जब, तीनों वीरों को झुलाया  था
सुखदेव,भगत सिंह,राजगुरु के, मन को कुछ और न भाया था
हँसते हँसते देश की खातिर ,फांसी को गले लगाया था।

तीनों के साथ आज ,एक बड़ा सा काफिला था
भारतवर्ष में लगा जैसे ,मेला कोई रंगीला था
लेकर जन्म इस पावन धरा पर ,उन्होंने अपना फर्ज निभाया था
हँसते हँसते देश की खातिर ,फांसी को गले लगाया था।

मौत का उनको डर न था , सीने में जोश जोशीला था
परवाह नहीं थी अपने प्राण की , बसंती रंग का पहना चोला था,
छोड़ मोह माया इस जग की, अपनों को भी भुलाया था
हँसते हँसते देश की खातिर ,फांसी को गले लगाया था।

इंकलाब का नारा लिए , विदा लेने की ठानी थी
लटक गए फांसी पर किन्तु , मुख से उफ्फ तक न निकाली थी,
देश भक्ति को देख तुम्हारी, बने अश्रुधार बहाया था
हँसते हँसते देश की खातिर, फांसी को गले लगाया था।

Listen this Heart Touching Desh Bhakti Shayari Video by Astrologer Dr Praveen Jain Kochar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close