Article 370 : बहुत कुछ बदल जाएगा अब जम्मू कश्मीर में by Astrologer Dr Praveen Jain Kochar

जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 को समाप्त करने की घोषणा कर दी गई है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आज राज्यसभा में राज्य से आर्टिकल 370 समाप्त करने का प्रस्ताव पेश किया। शाह ने कहा कि इस प्रस्ताव को संसद में साधारण बहुमत से पास किया जा सकता है।
जम्मू-कश्मीर पर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने ऐतिहासिक फैसला करते हुए राज्य को विशेष दर्जा को खत्म कर दिया है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने राज्यसभा में चार संकल्प पेश करते हुए आर्टिकल 370 को समाप्त करने का प्रस्ताव पेश किया। बता दें कि आर्टिकल 370 को जम्मू-कश्मीर से हटाने का फैसला संसद साधारण बहुमत से पास कर सकती है। इसके साथ ही जम्मू-कश्मीर का दो राज्यों में बंटवारा भी किया गया है। जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 को समाप्त करने की घोषणा कर दी गई है aur इस ऐतिहासिक फैसले से जम्मू-कश्मीर के भूगोल के साथ ही सियासत भी बदल गई है। आइए जानते हैं आर्टिकल 370 हटने के बाद जम्मू-कश्मीर में क्या-क्या बदल गया है… z

1. कोई भी खरीद सकेगा संपत्ति
2. अब अलग झंडा नहीं
3. बाकी देश की तरह जम्मू-कश्मीर में लागू होगा हर कानूनः
4. नहीं लागू होती थी धारा 356 
5. दोहरी नागरिकता खत्म
6. कश्मीर अब केंद्र शासित राज्यः
7. केंद्र शासित जम्मू-कश्मीर की होगी विधानसभाः 
8. लद्दाख चंडीगढ़ जैसा केंद्र शासित प्रदेशः 
9. कश्मीर का अलग से कोई संविधान नहीं:
10. RTI कानून कश्मीर में भी चलेगाः 
11. बाहरी राज्य के लोगों को भी नौकरी मिल सकेगीः 
12. वित्तीय आपातकाल भी लग सकेगाः 
13. जम्मू-कश्मीर की महिलाओं से भेदभाव होगा खत्म 
आर्टिकल 370 के खत्म होने के बाद अब अगर जम्मू-कश्मीर की महिला किसी अस्थायी निवासी से शादी कर लेती तो भी उनको संपत्ति का अधिकार मिलेगा। पहले अस्थायी निवासी से शादी करने पर महिलाओं को तो संपत्ति में अधिकार दिया जाता था लेकिन इस तरह महिलाओं के बच्चे संपत्ति के अधिकार से वंचित हो जाते थे। आर्टिकल 370 को खत्म करने के फैसले के बाद अब ये सारी पाबंदियां खत्म हो गई हैं। अब कश्मीर की महिला को किसी अस्थायी निवासी से शादी करने पर भी उसे संपत्ति का अधिकार मिलेगा। राज्यपाल का पद खत्म

Watch the complete Article 370 14 Untold Facts Video by Astrologer Dr Praveen Jain Kochar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close